पात्र व्यक्तियों को जन-कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलवाना सर्वोच्च प्राथमिकता – मुख्यमंत्री श्री चौहान

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से आज निवास पर मंत्रि-परिषद के सदस्यों ने वन-टू-वन चर्चा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में विकास गतिविधियों को समय-सीमा में पूर्ण करने और प्रत्येक पात्र व्यक्ति को जन-कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलवाने के उद्देश्य से आवश्यक कार्य-योजना और रणनीति बनायी जाएं।
– अटल एक्सप्रेस-वे और नर्मदा प्रोग्रेस-वे के निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिकता – मंत्री गोपाल भार्गव
लोक निर्माण, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री गोपाल भार्गव ने क्षेत्र के विकास और विभागीय गतिविधियों के संबंध में मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा की। मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि अटल एक्सप्रेस-वे और नर्मदा प्रोग्रेस-वे जैसी महत्वाकांक्षी और प्रदेश के विकास के लिए महत्वपूर्ण परियोजनाओं को विभाग सर्वोच्च प्राथमिकता पर पूर्ण करेगा।
– अब थैले में मिलेगा राशन – मंत्री बिसाहूलाल सिंह
खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा की। उन्होंने बताया हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता यह है कि प्रदेश का कोई भी गरीब भूखा नहीं रहे। प्रदेश में 4 करोड़ 80 लाख हितग्राहियों को राज्य शासन द्वारा राशन वितरित किया जाता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि जुलाई माह तक सभी पात्र हितग्राहियों को राशन उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि तीन माह का राशन राज्य शासन की ओर से और दो माह का राशन केन्द्र सरकार की ओर से उपलब्ध करवाया जा रहा है। अब हितग्राहियों को राशन थैले में उपलब्ध कराया जाएगा।
– पर्यावरण संरक्षण के लिए संचालित होंगी गतिविधियां – मंत्री हरदीप सिंह डंग
नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा, पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए चलाई गई गतिविधियों पर धन्यवाद दिया। मंत्री श्री डंग ने आगर, शाजापुर, नीमच में 1500 मेगावॉट की परियोजना की तैयारी, ओंकारेश्वर में सोलर प्लांट और छतरपुर, मुरैना में स्थापित हो रहे प्लांट के संबंध में मुख्यमंत्री श्री चौहान को प्रगति से अवगत कराया। भविष्य में निर्मित होने वाले सोलर पार्क पर भी मुख्यमंत्री श्री चौहान से मार्गदर्शन लिया। मंत्री श्री डंग ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल ने ऑक्सीजन का महत्व लोगों को समझा दिया है। इस संदर्भ में पर्यावरण संरक्षण के लिए की जा सकने वाली गतिविधियों पर भी मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा हुई।
– मुख्यमंत्री श्री चौहान से पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री श्री पटेल की वन-टू-वन चर्चा
पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण (स्वतंत्र प्रभार) मंत्री रामखेलावन पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक तथा विमुक्त, घुमक्कड़ एवं अर्द्ध-घुमक्कड़ वर्गों के कल्याण को लेकर वन-टू-वन चर्चा की। मंत्री श्री पटेल ने विशेष रूप से उक्त वर्गों के उत्थान से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर मुख्यमंत्री श्री चौहान के साथ विस्तृत चर्चा की। श्री पटेल ने खासतौर पर विंध्य क्षेत्र के विकास से जुड़े विभिन्न बिन्दुओं को लेकर मुख्यमंत्री के साथ विस्तृत चर्चा की। श्री पटेल ने घुमक्कड़ एवं अर्द्ध-घुमक्कड़ जातियों के विकास के लिये ठोस कदम उठाये जाने की जरूरत बताई। श्री पटेल ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के समक्ष पिछड़े वर्गों के उत्थान से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्री श्री पटेल से चर्चा के दौरान कहा कि विमुक्त, घुमक्कड़ और अर्द्ध-घुमक्कड़ समाज के कठिन परिस्थितियों में रह रहे परिवारों को जन-कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने के लिए विशेष प्रयास किये जाएं।

Check Also

राजाभोज एयरपोर्ट से फिर शुरु हुई 13 उड़ानें, लॉकडाउन समाप्त होने के बाद पहली बार लौटी रौनक

भोपाल । राजधानी के राजाभोज एयरपोर्ट से एक बार फिर से 15 में से 13 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *