मध्यप्रदेश में चिकित्सा शिक्षा की पढ़ाई अब हिन्दी में भी होगी

मॉड्यूल तैयार करने बनेगी कमेटी – विश्वास कैलाश सारंग

 


भोपाल। चिकित्सा शिक्षा एवं भोपाल गैस त्रासदी राहत व पुनर्वास मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने हिन्दी दिवस पर शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में चिकित्सा शिक्षा की पढ़ाई अंग्रेजी के साथ-साथ अब हिन्दी में भी होगी| जल्दी ही एक कमेटी बनाई जायेगी जो एक मॉड्यूल को तैयार करेगी। कमेटी के सुझाव के आधार पर ही पूरा पाठ्यक्रम हिन्दी में तैयार किया जायेगा| उन्होंने कहा कि भाषा चयन का विकल्प छात्र के पास रहेगा कि वह किस भाषा में अपनी पढ़ाई करना चाहता है|
श्री सारंग ने कहा कि अपनी मातृभाषा में पढ़ाई की सुविधा से गरीब, ग्रामीण और आदिवासी पृष्ठभूमि के विद्यार्थि‍यों का आत्मविश्वास बढ़ेगा| इसी सोच के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई अपनी मातृभाषा में करने के प्रावधान किये हैं|
मंत्री सारंग ने कहा कि प्रदेश में चिकित्सा शिक्षा की पढ़ाई राष्ट्र भाषा और हम सबकी मातृभाषा हिन्दी में भी हो इसके लिए जल्दी ही एक कमेटी गठित की जायेगी| यह कमेटी एक मॉड्यूल को तैयार करेगी| इस मॉड्यूल में चिकित्सा शिक्षा का हिन्दी में पाठ्यक्रम तैयार करने के साथ-साथ पाठ्यक्रम से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर भी विचार होगा और कमेटी यह भी देखेगी की इससे कोई दूसरी व्यवहारिक परेशानी तो खड़ी नहीं होगी| उन्होंने कहा कि अंग्रेजी भाषा में पढ़ाई पहले जैसी चलती रहेगी|
श्री सारंग ने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट आते ही प्रदेश के सभी चिकित्सा महाविद्यालयों में अंग्रेजी के साथ-साथ हिन्दी में भी पढ़ाई शुरू हो जायेगी।
नरेला विधानसभा अंतर्गत पार्टी के सभी मंडलों में राष्ट्रीय स्वास्थ्य स्वयंसेवक अभियान प्रशिक्षण शिविर लगा
नरेला विधानसभा अंतर्गत पार्टी के सभी छह शहीद भगत सिंह, स्वामी विवेकानंद, महामाई, स्टेशन, सम्राट अशोक और सुभाष मंडलों में आज राष्ट्रीय स्वास्थ्य स्वयंसेवक अभियान का प्रशिक्षण शिविर लगाया| जिसमें कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव, रोकथाम और सेवा कार्यों को लेकर कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया गया| प्रशिक्षण शिविर में मंत्री विश्वास कैलाश सारंग व पार्टी के वरिष्ठ नेता विकास वीरानी और चिकित्सक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक डॉ अभिजीत देशमुख व डॉ प्रदीप त्रिपाठी ने उद्बोधन दिया।
प्रशिक्षण शिविर के उपरांत आगामी कार्यक्रमों को लेकर बैठकें भी आयोजित की गयी। बैठकों में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने कार्यकर्ताओं को आगामी कार्ययोजना के संबंध में अवगत कराया|
श्री सारंग ने अपने उद्बोधन में कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक सेवा और समर्पण अभियान शुरू होने जा रहा है। मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के रूप में श्री नरेन्द्र मोदी का 7 अक्टूबर को लगातार 20 वर्ष का कार्यकाल पूरा हो रहा है। लोकतंत्र में जननेता के रूप में यह अवसर बहुत कम लोगों को मिलता है। यह प्रधानमंत्री जी की निरंतर बढ़ती लोकप्रियता को दर्शाता है।
मंत्री सारंग ने कहा कि सभी कार्यकर्ता आम जनमानस के साथ प्रत्येक वर्ष श्री मोदी के जन्मदिवस को सेवा सप्ताह के रूप में मनाते हैं। कार्यकर्ता विभिन्न सेवा कार्यक्रमों के माध्यम से श्री नरेन्द्र मोदी के स्वस्थ एवं दीर्घायु जीवन की कामना करते हैं।

Check Also

स्कूल व कालेज खुले, पर बसें नहीं दौड़ी, -बस आपरेटरों की आस टूटी

भोपाल । कोविड-19 का संक्रमण घटने के बाद शहर में स्कूल व कालेज खुल गए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *